▪️ आरोपीगण के विरूद्ध थाना खुर्सीपार में कई मामले दर्ज है।

संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि है प्रार्थी अपने साथी उस्ताद (ड्राईवर) रोहित पाण्डेय के साथ राजस्थान ट्रांसपोर्ट रावण बलौदाबाजार से ट्रक क्रमांक सीजी 04 पी.क्यू, 7468 मे सिमेंट लोड करके बालोद जा रहे थे। दिनांक 03.04.2024 को रात्रि करीबन 10.10 बजे खुर्सीपार सिग्नल के पहले अंकित किराना स्टोर के पास रूके, प्रार्थी उतरकर ट्रक का हवा चेक किया, वहीं पर हेण्डपम्प से डिब्बे में पानी भरा, पानी भरने के बाद थोडा अंधेरे मे पेशाब करने गया तो पेशाब कर रहा था उसी समय पीछे से कुछ लोग आये एक लडका मेरा मुंह पकडा और दो लडके प्रार्थी का पैर पकडे प्रार्थी छटपटाया तो वे लोग मोहित पैर को मजबूती से पकडा फिर एक लडका बोला मुर्गेश उसके मुंह को ठीक से दबा, तीनो मिलकर प्रार्थी को अंधेरे गली मे ले गये। प्रार्थी का उस्ताद 7,000 रूपये एवं लायसेंस प्रार्थी को रखने दिया था उसे तीनो मिलकर छीन लिये प्रार्थी के दुसरे जेब मे 200 रूपये और आधार कार्ड रखा था उसे भी छीन लिये प्रार्थी का उस्ताद रोहित पाण्डेय ट्रक से राड लेकर मुझे बचाने उत्तरा तो उसे देखकर तीनो भाग गये घटना के संबंध में प्रार्थी अपने उस्ताद को बताया उसके बाद माल खाली करने बालोद चले गये बालोद मे माल खाली कर वापस आकर लिखित आवेदन प्रस्तुत करने पर घटना के संबंध मे सूचना श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय दुर्ग को दी गई जिसपर पुलिस अधीक्षक दुर्ग श्री जितेन्द्र शुक्ला के निर्देशन पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री सुखनंदन राठौर एवं नगर पुलिस अधीक्षक महोदय छावनी श्री हरीश पाटिल के मार्गदर्शन पर थाना प्रभारी खुर्सीपार वंदिता पनिकर के नेतृत्व में अपराध क्रमांक 83/2024 धारा 392 भादवि दर्ज कर विवेचना मे लिया गया विवेचना के दौरान प्रकरण के आरोपीगण मुर्गेश नायर, मोहित उर्फ भुरू एवं अन्य एक लडका पता चला।पता तलाश किया जा रहा था कि मुखबीर से सूचना मिली कि मुर्गेश एवं उसके साथी शिवाजी उडिया बस्ती में नीम पेड़ के नीचे बैठे हुए है व खाने पीने का बहुत सारा सामान रखे है। कि सूचना पर उप निरीक्षक युवराज साहू हमराह आरक्षक 1773, 723,55,879 के उडीया बस्ती पहुंच कर घेराबंदी कर पकडर थाना लाये पूछताछ करने पर अपना जुर्म स्वीकार किये आरोपीगणो द्वारा लूटे गये 7,200 रूपये का तीनो आपस मे 2400-2400 रूपये बटवारा किये थे ।

Previous articleभारतीय मजदूर संघ के पदाधिकारियों ने दुर्ग जिले में सीबीएसई से सम्बद्ध स्कूलों में स्कूल प्रबंधन द्वारा शिक्षक/शिक्षिकाओं पर किये जा रहे मनमाना दुर्व्यवहार, आर्थिक शोषण, मानसिक प्रताड़ना, का मुद्दा उठाया
Next articleमुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीमती रीना कंगाले ने दंतेवाड़ा में स्ट्रांगरूम एवं मतगणना केन्द्र का किया निरीक्षण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here