रायपुर, 15 अगस्त 2023/ आज 15 अगस्त के पवन अवसर पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री रविन्द्र चौबे ने जिला कार्यालय परिसर में छत्तीसगढ़ महतारी की प्रतिमा का अनावरण किया और विधि विधान से पूजा अर्चना और पुष्प अर्पित कर उन्हें नमन किया। विशेष अतिथि संसदीय सचिव व विधायक श्री गुरुदयाल सिंह बंजारे, स्थानीय विधायक श्री आशीष छाबड़ा शामिल हुए। अनावरण से पहले अतिथियों का कलेक्टर श्री पदुम सिंह एल्मा ने पुष्पगुच्छ से स्वागत किया। मंत्री श्री चौबे ने महतारी प्रतिमा अनावरण के उपरांत पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ महतारी, छत्तीसगढ़ की अस्मिता, स्वाभिमान और सम्मान का प्रतीक हैं। उन्होंने कहा कि सभी जिलों में छत्तीसगढ़ महतारी की प्रतिमा लगाई जा रही है इससे छत्तीसगढ़ के नागरिकों में अपनी संस्कृति को लेकर चेतना जागृत रहेगी। तीज-त्यौहार, लोक परम्पराओं को जानने-समझने का भावी पीढ़ी को पर्याप्त अवसर मिले, यही हमारा प्रयास है।

श्री चौबे ने कहा की छत्तीसगढ़ सरकार अपनी संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए संकल्पित होकर कार्य कर रही है। प्रदेश सरकार के द्वारा छत्तीसगढ़ के परंपरागत तिहारों का आयोजन किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ी बोली, गीत, छत्तीसगढ़ की पहचान गमछा, तीजा-पोरा, अक्ती, हरेली, छेरछेरा जैसे लोक जीवन के तिहारों को व्यापक स्तर पर मनाने की सार्थक पहल हुई है। और छत्तीसगढ़ महतारी की प्रतिमा प्रत्येक जिले में स्थापित करने का निर्णय लिए हैं, इसी क्रम में आज बेमेतरा जिला मुख्यालय परिसर में छत्तीसगढ़ महतारी की प्रतिमा का अनावरण किया गया है।

छत्तीसगढ़ महतारी को छत्तीसगढ़ के पारंपरिक परिधानों और आभूषणों में चित्रित किया गया है। हरे रंग की साड़ी पहने माता के बाएं हाथ में धान की बाली और हंसिया है। माता का दूसरा हाथ अभय मुद्रा में संतानों को आशीर्वाद दे रहा है। ये देश का इकलौता प्रदेश है जिसे मां के तौर पर पूजा जाता है। कार्यक्रम में वरिष्ठ जनप्रतिनिधि श्री बंशी पटेल, पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता, जिला पंचायत सीईओ श्रीमती लीना मंडावी, अपर कलेक्टर द्वय डॉ. अनिल बाजपेयी, सी.एल. मार्कण्डेय, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री पंकज पटेल सहित जिला स्तर के अधिकारी कर्मचारी और जनप्रतिनिधिगण उपस्थित थे।

Next articleस्वतंत्रता दिवस मुख्य समारोह 2023,मुख्यमंत्री ने पुलिस अधिकारियों को उत्कृष्ट सेवाओं के लिए किया पुरस्कृत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here